Personal Loan अप्रूवल की संभावनाओं को बेहतर बनाने वाली 10 टिप्स.

Personal Loan : अप्रूवल की संभावनाओं को बेहतर बनाने वाली 10 टिप्स.

Personal Loan: यदि आप पर्सनल लोन लेने की सोच रहे हैं तो किस प्रकार तुरंत एवं परेशानी मुक्त तरीके से पर्सनल लोन अप्रूवल प्रक्रिया को सुनिश्चित किया जा सकता है ध्यान रखने योग्य महत्वपूर्ण बातें।

Personal Loan वित्तीय जरूरत के समय सर्वाधिक उपयोग किए जाने वाले लोन उत्पादों में से एक है, पर्सनल लोन का उपयोग विभिन्न नियोजित एवं अनियोजित खर्चों के लिए मददगार साबित होता है, क्योंकि पर्सनल लोन कॉलेटरल फ्री होता है, इसीलिए लोनप्रदाता के द्वारा पर्सनल लोन स्वीकृति से पूर्व आवेदक के पात्रता मापदंड की जांच की जाती हैं।

इसलिए बिना किसी परेशानी की तुरंत Personal Loan Approval सुनिश्चित करें के लिए एवं संभावनाएं बढ़ाने के लिए 10 महत्वपूर्ण टिप्स का ध्यान रखें।

लोन प्रदाता का एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया ( पात्रता मानदंड) क्या है जाने ?

वर्तमान समय में सभी लोनप्रदाताओं के द्वारा एक निर्धारित पात्रता मापदंड रखा गया है जिस में मुख्यतः आवेदक की आय, रोजगार, आय के स्रोत एवं अन्य महत्वपूर्ण बिंदु शामिल होते हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप आसानी से Personal Loan के लिए अर्हता प्राप्त कर सकते हैं और अस्वीकृति से बच सकते हैं, इसके लिए ऑनलाइन पात्रता कैलकुलेटर का उपयोग करें।

उस राशि के लिए आवेदन करें जितनी आप Afford कर सकते हैं ?

Personal Loan आवेदक को उतनी राशि के लिए आवेदन करना चाहिए जितनी वह चुका सकते हैं अधिक लोन राशि के लिए आवेदन करने पर पर्सनल लोन अप्रूवल की संभावनाएं कम हो सकती है इसीलिए लोन आवेदक को अपने सभी आय के स्रोत एवं वित्तीय दायित्व पर विचार करने के पश्चात एक किफायती लोन राशि के लिए आवेदन करना चाहिए जिसे आसानी से चुकाया जा सके क्योंकि यह आवेदक के लोन भुगतान को और अधिक सुविधाजनक बनाता है और जोखिम होने से बचने में मदद करता है।

Personal Loan पाने के 5 तरीके कम CIBIL Score के साथ.

एक अच्छा क्रेडिट स्कोर बनाए रखें ?

क्रेडिट स्कोर लोन आवेदक की साख को मापने का एक आधार है यह Personal Loan Approval को प्रभावित करने वाले सबसे महत्वपूर्ण कारणों में से एक है यदि लोन आवेदक का क्रेडिट स्कोर 750 या उससे अधिक होता है तो आवेदक की लोन स्वीकृत होने की संभावनाएं अधिक होती है। यदि आप का क्रेडिट स्कोर कम है जिसका मुख्य कारण आपके द्वारा ईएमआई एवं क्रेडिट कार्ड के बिलों का भुगतान समय पर नहीं करना महत्वपूर्ण कारणों में से एक है, इसलिए आवेदक को अपने कम क्रेडिट अनुपात को बनाए रखने का प्रयास करते रहना चाहिए।

आय अनुपात के लिए अपने निश्चित दायित्व की जाँच करें ?

FOIR एक व्यक्ति के लोन-से-आय का अनुपात है जो दर्शाता है की कितनी डिस्पोजेबल आय हैं। लोनप्रदाता के द्वारा यह सुनिश्चित करना होता है कि आवेदक समय पर लोन का भुगतान कर सकता है या नहीं इसीलिए FOIR आवेदक की लोन पात्रता निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

आदर्श रूप से FOIR को 40% से 55% के बीच बनाए रखना चाहिए। कम FOIR का मतलब यह माना जाता है कि आवेदक के पास लोन चुकाने के लिए उचित डिस्पोजेबल इनकम नहीं है।

जाने बैंक जाए बिना Instant Personal Loan के लिए आवेदन किस प्रकार करें ?

कई लोन आवेदन करने से बचें ?

आवेदक को आर्थिक आपात स्थितियों के दौरान लोन प्राप्त करने की उम्मीद से एक से अधिक लोनप्रदाताओं से संपर्क करने का विचार भी आता हैं। लेकिन आपको इससे बचना चाहिए हैं। लोनप्रदाता के द्वारा इसे ना केवल क्रेडिट व्यवहार के रूप में देखा जा सकता है, इसके साथ-साथ एक से अधिक आवेदन करना आपके क्रेडिट स्कोर को भी प्रभावित कर सकता हैं। क्योंकि प्रत्येक Personal Loan आवेदन आपकी क्रेडिट रिपोर्ट पर एक कठिन पूछताछ करता है, जो समय के साथ आपके क्रेडिट स्कोर को कम कर सकता हैं।

एक सह-उधारकर्ता जोड़ें ?

अधिकतर लोनप्रदाता आपको को-एप्लीकेंट के रूप में आपके माता-पिता या जीवनसाथी के साथ Personal Loan के लिए आवेदन करने की अनुमति देते हैं। यदि आप लोनप्रदाता के इनकम क्राइटेरिया को पूरा करने में सक्षम नहीं है या आपका क्रेडिट स्कोर कम है तो यह विशेष रुप से आपके लिए सहायक होता है, यदि को-एप्लीकेंट के पास अच्छा क्रेडिट स्कोर और सैलेरी हैं तो उनको जोड़ कर आकर्षक ब्याज दर एवं Personal Loan प्राप्त करने की संभावनाएं बढ़ाई जा सकती है।

सभी आय के स्रोत का उल्लेख करें ?

जब आप Personal Loan के लिए आवेदन करते हैं तो लोनप्रदाता के द्वारा यह जानने का प्रयास किया जाता है कि आप लोन का भुगतान समय पर कर सकते हैं या नहीं, इसीलिए यदि आपके पास इनकम का कोई अतिरिक्त स्रोत है तो उसका भी उल्लेख करना ना भूले, जैसे कि किराया, लाभांश, ब्याज, और बहुत कुछ। इससे न केवल आपके लोन अप्रूवल की संभावना में सुधार होगा, बल्कि आप अधिक लोन राशि के लिए भी पात्र बन सकते हैं।

लंबी लोन अवधि का विकल्प चुनें ?

यदि आपकी लोन अवधि अधिक होगी तो आपकी ईएमआई की राशि कम बनेगी, जैसे आप डिफॉल्ट किए बिना समय पर भुगतान करने में सक्षम होंगे, इस प्रकार आप अपना आर्थिक बोझ भी कम कर सकेंगे एवं लोन अप्रूवल की संभावनाएं भी बढ़ा सकते हैं।

आवेदन के मध्य कुछ महीनों का अंतर सुनिश्चित करें ?

जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कई लोन आवेदन करना आपके क्रेडिट स्कोर को प्रभावित करता है इसलिए प्रत्येक लोन आवेदन के मध्य न्यूनतम 6 महीने का अंतराल होना सबसे अच्छा माना जाता है। यदि आपको कोई तत्काल आवश्यकता नहीं है, तो अपने क्रेडिट स्कोर में सुधार के लिए कुछ समय प्रतीक्षा करें, जो आपके पास स्वीकृत होने का एक बेहतर मौका होगा।

लोनप्रदाता को सही जानकारी उपलब्ध कराएं ?

आवेदक को Personal Loan के लिए अप्लाई करते समय अपनी सही जानकारी दर्ज करनी चाहिए, इसीलिए आवेदन करते समय दोबारा जांच करनी चाहिए, क्योंकि गलत जानकारी उपलब्ध कराने से आपके Personal Loan Approval की संभावनाएं प्रभावित होती है।

About The Author

Scroll to Top
क्रेडिट कार्ड के Hidden Charges क्या हैं ? कम CIBIL स्कोर के साथ पर्सनल लोन कैसे प्राप्त करें ? क्रेडिट स्कोर के बारे में जाने ? बजाज मार्केट्स के पास सभी के लिए पर्सनल लोन उपलब्ध हैं। Personal Loan Tax Benefits क्या है ? Milesopedia Announces the 2023’s Best Credit Cards in Canada Poonawalla Fincorp Business Loan Interest Rate Kya hai ? Credit Card closure Process kya hai Jane Personal Loan For Big Purchase Check 7 Reason PNB Patanjali RuPay Select Credit Card Kisan Vikas Patra Interest Rate and Features 2023 प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना (पीएमकेएसवाई) प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना (पीएम-केएमवाई) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई ) Instant Personal Salary Loan App Se Loan Kaise Le jane ? यूपीआई से अधिकतम कितनी राशि ट्रांसफर कर सकते हैं ? पर्सनल लोन से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी एसबीआई होम लोन की ब्याज दरें आज से बढ़ीं सीनियर सिटीजन एफडी की ब्याज दर फिर बढ़ी